गणतंत्र दिवस: भारतीय संविधान बनाते समय – रिपब्लिक डे

0
70

भारतीय संविधान और गणतंत्र दिवस: गांधीजी की इच्छा की पूर्ति

भारतीय संविधान का महत्व

भारतीय संविधान भारतीय गणराज्य की आधारशिला है। इस दिवस को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसे जनवरी 26 को मनाया जाता है। यह दिन भारतीय संविधान का प्रणालीबद्ध होने की मान्यता की जाती है, जिसमें संविधान सभा ने 26 जनवरी 1950 को भारत में लागू किया था।

महात्मा गांधी और भारतीय संविधान

महात्मा गांधी ने स्वयं और दूसरों के अधिकारों के लिए समर्पित एक समाज स्थापना की थी जिसमें समानता, न्याय, और स्वतंत्रता शामिल थी। उन्होंने संविधान के महत्व को समझते हुए गणराज्य के सिद्धांत को अपनाया था।

गणराज्य के लक्षण

भारतीय संविधान में गणराज्य के कई महत्वपूर्ण लक्षण हैं:

  1. सर्वोच्चता: व्यक्तियों के अधिकारों की सर्वोच्चता के लिए समर्पित।

  2. पृथक्करण: संविधान में कार्यकर्ताओं के विभाजन की स्पष्टता।

  3. स्वतंत्रता: संविधान द्वारा नागरिकों को आज़ादी और खुदरा स्वायत्तता प्रदान करना।

  4. गुणवत्ता की सुरक्षा: संविधान द्वारा न्याय, समानता और सामाजिक सुरक्षा की भावना को सुनिश्चित करना।

गणतंत्र दिवस का महत्व

गणतंत्र दिवस भारतीय आज़ादी के बाद का सबसे महत्वपूर्ण दिन है। इस दिन सारंग किसान एवं बबू राजेंद्र प्रसाद ने राजपत्र में अपनी शपथ ग्रहण की थी। गणतंत्र दिवस देश के लिए समर्पितता, एकता और स्वतंत्रता की भावना को साझा करता है।

महत्वपूर्ण तिथियाँ और कार्यक्रम

गणतंत्र दिवस मनाने के लिए कई कार्यक्रम होते हैं, जैसे राष्ट्रपति की संविधान दिवस पर राष्ट्रपति भवन में समारोह, गणतंत्र दिवस कार्यक्रम का आयोजन, समर्पण समारोह, और समाज और सरकारी संगठनों के द्वारा विभिन्न स्थानों पर आयोजित समारोह।

संविधान दिवस की धारा 144

संविधान दिवस के मौके पर एक सामान्य कार्यक्रम के रूप में, भारतीय संविधान की धारा 144 कानून व्यवस्था आधारित प्रतिबंध लगाती है। धारा 144 के तहत, पब्लिक गठरने, प्रदर्शन, और सैनिक समग्रता के साथ सड़कों पर देखने की मौजूदगी को रोक देता है। यह तैनात किया जा सकता है ताकि किसी भी अत्याचार या दुर्व्यवहार से बचा जा सके।

भारतीय संविधान में महिला सामाजिक एवं नैतिक स्थिति

भारतीय संविधान महिलाओं के सामाजिक और नैतिक स्थिति को बढ़ावा देने के लिए कई प्रावधान हैं। इसमें उन्हें समानता, सुरक्षा, और समर्थन प्राप्त करने का अधिकार दिया गया है। महिलाओं की समर्थन के लिए कई योजनाएं भी चलाई जाती हैं।

संविधान के प्रमुख अनुच्छेद

भारतीय संविधान के कुछ महत्वपूर्ण अनुच्छेद हैं:

  1. राष्ट्रपति का कार्यभाषा:
  2. इस अनुच्छेद में राष्ट्रपति के कर्तव्यों और अधिकारों का विस्तार है।

  3. संघ से संबंधित अनुच्छेद:

  4. इस अनुच्छेद में संघ की स्थापना और उसके अधिकारों का वर्णन है।

  5. राज्यपाल का कार्यभाषा:

  6. इस अनुच्छेद में राज्यपाल के कर्तव्यों और अधिकारों का विस्तार है।

भारतीय संविधान के महत्वपूर्ण विशेषताएं

  • आधारभूत अधिकार: भारतीय संविधान ने नागरिकों को अपने आधारभूत अधिकार जैसे अभिवादन, अभिवासन, धर्मनिरपेक्षता, अभिबोधन आदि की सुरक्षा दी है।

  • स्वतंत्रता: संविधान से लागू स्वतंत्रता नागरिकों को किसी भी अत्याचार या अमान्यकार्य से बचाने का अधिकार प्रदान करता है।

  • न्यायपालिका की स्वतंत्रता: संविधान ने न्यायपालिका को पूर्ण स्वतंत्रता प्रदान की है ताकि वह समान न्याय की सुनिश्चित कर सके।

  • संविधानीय संशोधन: संविधान में अपनाए गए संशोधन और सुधारों के माध्यम से संविधान को समय-समय पर अद्यतन किया जा सकता है।

गणतंत्र दिवस की अहमियत

गणतंत्र दिवस भारतीय संविधान की महत्वपूर्णता को उजागर करता है और लोगों को संविधान के महत्व को समझने के लिए प्रेरित करता है। यह एक अवसर है जब लोग अपनी स्वतंत्रता की कीमत को समझते हैं और गणराज्य की महत्वपूर्णता को मानते हैं।

गणतंत्र दिवस और उत्सव

गणतंत्र दिवस एक उत्सवपूर्ण समारोह है जिसमें स्कूल, कॉलेज, और समाज के विभिन्न स्थानों पर समारोह और मेले आयोजित किए जाते हैं। लोग इस दिन को खास रूप से मनाकर राष्ट्रीय फहराएं लहराते हैं और देशभक्ति भावना को महसूस करते हैं।

गणतंत्र दिवस के चुनौतियाँ

गणतंत्र दिवस के महत्व को समझने के बावजूद, कुछ चुनौतियाँ भी हैं जिन्हें लोगों को सामना करना पड़ता है:

  1. जनसंख्या: भारत की वृद्धि दर का संघर्ष सामाजिक सुरक्षा और उपयोगकर्ता सेवाओं को प्रभावित कर सकता है।

  2. न्यायपालिका की देरी: न्यायपालिका में मामलों का देर से निर्णय लेना न्याय प्रक्रिया को प्रभावित कर सकता है।

  3. कानूनी सुधार: कानूनी सुधारों की अभाविता मानवाधिकारों को प्रभावित कर सकती है।

संक्षिप्त FAQ

  1. गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है?
  2. भारतीय संविधान के प्रणालीबद्ध होने की मान्यता के अवसर पर गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।

  3. गणतंत्र दिवस कब मनाया जाता है?

  4. गणतंत्र दिवस को भारत में 26 जनवरी को मनाया जाता है।

  5. गणतंत्र दिवस संस्कृति के रुप में क्यों महत्वपूर्ण है?

  6. गणतंत्र दिवस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here